Thursday, January 12, 2017

हुस्न hd image shayari


अब भला छोड़ के घर क्या करते, 
शाम के वक्त हम सफ़र क्या करते, 
इश्क ने सारे सलीके बख्शे हमें, 
हुस्न से कस्बेहुनर क्या करते..!!!

Now leave the house to do good,
In the evening we do travel,
We love the whole custom Bkshe,
The beauties do Ksbehunr .. !!!