Friday, January 13, 2017

तन्हाई का एहसास hindi shayari image


फिर कहीं दूर से एक बार सदा दो मुझको, 
मेरी तन्हाई का एहसास दिला दो मुझको, 
तुम तो चाँद हो तुम्हें मेरी ज़रुरत क्या है, 
मैं दिया हूँ किसी चौखट पे जला दो मुझको...!!!

Always let me once again from somewhere far away,
Let me give you a sense of my loneliness,
What do you need me to get you the moon,
Burn me, I am given a threshold on ... !!!

No comments:

Post a Comment