इंतज़ार शायरी

फुर्सत किसे है ज़ख्मों पे मरहम लगाने की ,
निगाहें बदल गयी अपने और बेगाने की........$$$$$
तू न छोड़ना दोस्ती का हाथ वरना ,
तमन्ना मिट जाएगी कभी दोस्त बनाने की .........$$$$$

*******************************

हमने माँगा था साथ उनका,
वो जुदाई का गम दे गए........$$$$$
हम उनकी यादों के सहारे जी लेते
पर वो भूल जाने की कसम दे गए........$$$$$

*******************************

आँखो से उतरा और, दिल तक सरक गया.
तेरे प्यार का बादल, यहाँ आकर बरस गया.........$$$$$
माना कि बहुत लंबी हैं, तन की ये दूरियाँ.
पर मन कमल तेरा यहाँ, आकर महक गया.
मन ही मन जिससे कही, मन की सारी बातें.........$$$$$
वो अहसास था तेरा जो, आकर चहक गया........$$$$$

******************************

नन्हे से दिल मे अरमान कोई रखना,
दुनिया की भीड मे पहचान कोई रखना........$$$$$
अच्छा नही लगता, जब रहते हो उदास,
अपने होंठो पे सदा मुस्कान वही रखना........$$$$$

***************************

छोटी-छोटी बातों पर रोने की आदत है उसे..........$$$$$
और आँखों में मुझे रखती है काजल की तरह........$$$$$

****************************

तमन्ना हो मिलने की तो,
बंद आँखों मे भी नज़र आएँगे........$$$$$
महसूस करने की कोशिश तो कीजिए,
दूर होते हुए भी पास नज़र आएँगे........$$$$$

*****************************

कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता,
गंभीर है किस्सा सुनाया नहीं जाता........$$$$$
एक बार जी भर के देख लो इस चहेरे को,
क्योंकि बार-बार कफ़न उठाया नहीं जाता.........$$$$$

*****************************

❝लोग कहते हैं कि मेरा दिल ❤ पत्थर का है..........$$$$$
लेकिन कुछ लोग ऐसे भी थे..जो इसे भी तोड़ गए........$$$$$

**************************


खामोशियाँ कर दें बयां, 
तो अलग बात है........$$$$$
कुछ दर्द ऐसे भी हैं, 
जो लफ़्जों में उतारे नहीं जाते.........$$$$$

**********************************

जरूर ये हवा किसी दुश्मन ने उड़ायी होगी ..........$$$$$
यकी करो हमारे बीच कभी नही जुदायी होगी ..........$$$$$
उसने कुछ तो सोचा होगा हमारे बारे मे ..........$$$$$
जिसने हमारे दिलो मे ये चाहत जगायी होगी .........$$$$$

*******************************