Heart Touching Sad Love Sms




इक इंतज़ार सा था अब नज़र में वो भी नहीं
सफ़र में मरने की फ़ुर्सत थी घर में वो भी नहीं...........$$$$

******************************

हर पत्ती बोझिल हो के गिरी सब शाख़ें झुक कर टूट गईं
उस बारिश ही से फ़सल उजड़ी जिस बारिश से तैयार हुई...........$$$$

अब ये भी नहीं है बस में के हम फूलों की डगर पर लौट चलें
जिस राहगुज़र पर चलना है वो राहगुज़र तलवार हुई...........$$$$

******************************

चलिये संभल संभल के कठिन राह-ए-इश्क़ है 
नाज़ुक बड़ी है आप की पायल संभालिये ...........$$$$

सज धज के आप निकले सर-ए-राह ख़ैर हो 
टकरा न जाये आप का पागल संभालिये...........$$$$

******************************

ये भी क्या एहसान कम हैं देखिये न आप का 
हो रहा है हर तरफ़ चर्चा हमारा आप का ...........$$$$

चाँद में तो दाग़ है पर आप में वो भी नहीं 
चौधवी के चाँद से बड़कर है चेहर आप का...........$$$$

******************************

ये करें या वो करें ऐसा करें वैसा करें 
ज़िन्दगी दो दिन की है दो दिन में हम क्या क्या करें ...........$$$$

जी में आता है कि दें पर्दे से पर्दे का जवाब 
हम से वो पर्दा करें दुनिया से हम पर्दा करें...........$$$$

******************************

मेरे पास वक़्त थोड़ा मेरे वाक़्यात लम्बे
कहाँ सर-गुज़श्त अपनी न सुनो मेरा फ़साना...........$$$$

मुझे याद आज भी है जो करम हुआ है मुझ पे
मुझे ग़म अभी है ताज़ा मेरे सामने न आना...........$$$$

******************************

"न सोने से न चांदी से, न हीरे से न मोती से

बुजुर्गों की दुआओं से, बशर धनवान होता है"...........$$$$

******************************

"जब तलक जीना है ,दोस्तों मुस्कुराते ही रहो
क्या ख़बर हिस्से में ,अब कितनी बची है जिन्दगी"...........$$$$

******************************

हाले इश्क में मिट गए , लुट गए 
वफा उनसे बस निभानी है 
वो है तो कुछ है ...
वरना अब सारा जहां बेमानी है...........$$$$

******************************

मिलेंगी तब हमें सच्ची दुआयें
किसी के साथ जब आंसू बहायें...........$$$$

बना लें दोस्त चाहे आप जितने
मगर हरगिज़ न उनको आज़मायें

******************************

उन लफ्जों के तरसते है तडपते है 
दो पल के साथ के लिए तरसते 
सोचा करते है खाश दिल न लगाया होता ...........$$$$
वरना आदमी तो हम भी काम के थे .....................................$$$$

******************************

वो शक्श जो आज, मेरे सामने बैठा है..............$$$$
उसे पता कहाँ, वो मेरे दिल में रहता है............$$$$

******************************

एक तेरी तमन्ना है इस दिल 
रश कोई बाकी नहीं 
भूल न जाना इस पागल को 
बस कुछ पल के लिए 
मुस्करा जाना ...............................$$$$

पल दो पल के लिए यही सुकून मुझे मिलेगा 
उन दो पल के तुम्हारे मुस्काने से .............................$$$$

******************************

करने कहाँ है देती, दिल की किसी को दुनिया
सदियों से लीक पर ही, चलना सिखा रही है...........$$$$

******************************

मुझे पिला रहे थे वो कि ख़ुद ही शमाँ बुझ गई
गिलास ग़ुम,शराब ग़ुम बड़ी हसीन रात थी...........$$$$

लिखा था जिस किताब कि इश्क़ तो हराम है
हुई वही किताब ग़ुम बड़ी हसीन रात थी...........$$$$

******************************

न रस्ता है ये आपका न रस्ता ये मेरे बाप का
अगर मैं साथ हो लिया तो क्या गया जनाब का...........$$$$

******************************

न यूँ मटक\-मटक के चल न पाँव यूँ पटक के चल
खड़े हैं हम भी राहों में दुपट्टा न झटक के चल...........$$$$

******************************

कुछ असर उनकी हसीन याद का है,
कुछ असर उनकी प्यारी बात का है...................$$$$

बहते है पलकों से आसू बनकर टूटे हुए जज्बात, 
ये असर तो उनके हर बेवफा मुलाकात का है....................$$$$

******************************

पलकों पे आकर रुक जाते हैं ये आँसू !
तन्हाई पाकर बह जाते हैं ये आँसू............$$$$
बहुत सोचा थोरा गम बाँट लूँ आपसे !
पर आप को हँसता देख कर सुख जाते हैं ये आँसू ...........$$$$

******************************

उसूलों पर जहाँ आंच आये, टकराना जरूरी है
जो जिंदा हो, तो फिर जिंदा नज़र आना जरूरी है...........$$$$

******************************

सोचता हूँ तो छलक उठती हैं आँखें लेकिन
तेरे बारे में न सोचूं तो अकेला हो जाऊँ...........$$$$

******************************

ये इंतजार गलत हे के शाम हो जाये 
जो हो सके तो अभी दौरे जाम हो जाये...........$$$$

******************************

सच्चाई जाने बिना कोई फैसला न लेना !
हमारी दोस्ती का कभी इम्तिहान न लेना...........$$$$
हम नहीं वक्त बेवफ़ा हैं दोस्त....!
कही हमें मतलबी समझ के भुला न देना ...........$$$$

******************************

वो बेवफ़ा नहीं मुझे पता हैं !
उनकी राह देखना ये मेरी अदा हैं...........$$$$
वो आए न आए ये उनकी वफ़ा हैं...........$$$$
बस तड़पता रहना ये मेरी सजा हैं...........$$$$

******************************

हम याद रहे तो ठीक वर्ना भुला देना !
हुई खता हमसे तो सजा देना..............$$$$
वैसे हम हैं कोरे कागज़ की तरह !
लिखा जाए तो ठीक वर्ना जला देना...........$$$$

******************************

कोई लाख दूर रहे कितनो भी !
पर अपना ही रहे क्या कम हैं...........$$$$
प्यार करे न करे कोई गम नहीं !
बाद याद करते रहे क्या कम हैं ...........$$$$

******************************

अपने मतलब के लिए कभी प्यार न करना !
झूठे दिल से कभी एकरार न करना............$$$$
अगर न हो मोहब्बत तो कोई बात नहीं !
पर किसी से कभी झूठा एकरार न करना ...........$$$$

******************************

और क्या इस से ज्यादा कोई नर्मी बरतूं
दिल के जख्मों को छुआ है तेरे गालों की तरह...........$$$$

******************************

कुछ यूँ था उनका अलविदा कहने का अंदाज !
की सुना भी कुछ नहीं, कहाँ भी कुछ नहीं.............$$$$
कुछ यूँ बर्बाद हुए उनकी मोहब्बत में हम !
की लौटा भी कुछ नहीं, बचा भी कुछ नहीं..............$$$$

******************************

जिंदगी में किसी का साथ काफी हैं !
हाथों में किसी का हाथ काफी हैं.............$$$$
दूर हो या पास फर्क नहीं परता....!
प्यार का तो बस एहसाश ही काफी हैं ...........$$$$

******************************

तुझको मिल जायेगा बेहतर मुझसे !
मुझको मिल जायेगा बेहतर तुझसे...........$$$$
फिर भी दिल में एक ख्याल आता हैं !
जानी तू जो मिल जाए तो बेहतर हैं सबसे ...........$$$$

******************************

तुझको मिल जायेगा बेहतर मुझसे !
मुझको मिल जायेगा बेहतर तुझसे ...........$$$$
फिर भी दिल में एक ख्याल आता हैं !
जानी तू जो मिल जाए तो बेहतर हैं सबसे ...........$$$$

******************************

चाहत तेरी पहचान हैं मेरी !
मोहब्बत तेरी शान हैं मेरी...........$$$$
होके जुदा तुझसे कैसे रह पाऊंगा !
तू तो आखरी साँस तक जान हैं मेरी...........$$$$

******************************

आपका रिश्ता हमारे सुरों का साज़ हैं !
आप जैसे अपनों पर हमें नाज़ हैं...............$$$$
चाहे कुछ भी हो जाए जिंदगी में !
यह रिश्ता कल भी वैसा ही रहेगा जैसा आज हैं ...........$$$$

******************************

१=अगर वो अपनी मोहब्बत हमें बना ले !
हम उनका हर ख्वाब पलकों पे सजा ले ...........$$$$
करेगी कैसे मौत हमें उनसे जुदा...!
अगर वो हमें अपनी रूह में बसा ले...........$$$$

******************************

(२) जिनके तलाश में कदम खुद निकल गए !
जिनकी याद में ये अरमान पिघल गए..............$$$$
ढूंढ़ता था जिनको इस जहाँ में मैं !
पलके बंद की तो वो दिल में ही मिल गए ...........$$$$

******************************

३=जीने के लिए उनकी मुस्कान काफी हैं !
कलम से लिखी हुई ये दास्तान काफी हैं...........$$$$
तस्वीर की क्या जरुरत हैं....!
उन्हें देखने के लिए तो बंद आँखे ही काफी हैं...........$$$$

******************************

सता सता के हमें अश्कबार करती है 
तुम्हारी याद बहुत बेक़रार करती है ...........$$$$

******************************

गिला नहीं जो नसीबों ने कर दिया है जुदा 
तेरी जुदाई भी अब हम को प्यार करती है...........$$$$

******************************

सता सता के हमें अश्कबार करती है 
तुम्हारी याद बहुत बेक़रार करती है ...........$$$$

******************************

गिला नहीं जो नसीबों ने कर दिया है जुदा 
तेरी जुदाई भी अब हम को प्यार करती है...........$$$$

******************************

मैं सहल रास्तों का मुसाफ़िर न बन सका

मेरा सफ़र वही है जो दुशवार कुछ तो हो...........$$$$

******************************

ऐसा भी क्या कि कोई फरिश्तों से जा मिले

इन्सान है वही जो गुनहगार कुछ तो हो...........$$$$

******************************

हुस्न जब इश्क़ से मन्सूब नहीं होता है
कोई तालिब कोई मतलूब नहीं होता है...........$$$$

******************************

अब गरज़ चारों तरफ पाँव पसारे है खड़ी
अब किसी का कोई महबूब नहीं होता है...........$$$$

******************************

ख्वाहिश मुझे जीने की ज़ियादा भी नहीं है

वैसे अभी मरने का इरादा भी नहीं है...........$$$$


हर चेहरा किसी नक्श के मानिन्द उभर जाए...........$$$$

ये दिल का वरक़ इतना तो सादा भी नहीं है

******************************

हम से पूछो। हम झुल्से हैं सावन की घनघोर घटा में
तुम क्या जानों किस शिद्दत की होती है बरसात कि आँच...........$$$$

दिन में पेड़ों के साए में ठडक मिल जाती है
दिल वालों की रूह को अक्सर झुलसाती है रात कि आँच...........$$$$

******************************

हम से पूछो। हम झुल्से हैं सावन की घनघोर घटा में
तुम क्या जानों किस शिद्दत की होती है बरसात कि आँच...........$$$$

दिन में पेड़ों के साए में ठडक मिल जाती है
दिल वालों की रूह को अक्सर झुलसाती है रात कि आँच...........$$$$

******************************

हमारी हर नज़र तुझसे नयी सौगंध खाती है
तो तेरी हर नज़र से हम नया पैग़ाम लेते हैं...........$$$$

“फ़िराक़” अक्सर बदल कर भेस मिलता है कोई क़ाफ़िर
कभी हम जान लेते हैं कभी पहचान लेते हैं...........$$$$

******************************

छलक के कम न हो ऐसी कोई शराब नहीं
निगाह-ए-नर्गिस-ए-राना तेरा जवाब नहीं...........$$$$

ज़मीन जाग रही है कि इन्क़लाब है कल
वो रात है कोई ज़र्रा भी मह्व-ए-ख़्वाब नहीं...........$$$$

******************************

हम से पूछो। हम झुल्से हैं सावन की घनघोर घटा में
तुम क्या जानों किस शिद्दत की होती है बरसात कि आँच...........$$$$

दिन में पेड़ों के साए में ठडक मिल जाती है
दिल वालों की रूह को अक्सर झुलसाती है रात कि आँच...........$$$$

******************************

वो आती है रोज़ मेरी “कब्र”पर अपने हमसफ़र के साथ ..
कौन केहता है के “दफनाने” के बाद “जलाया” नहीं जाता..

******************************

लाजबाब हैं हमारा जीने का फसाना !
कोई सीखे हमसे हर पल मुस्कुराना...........$$$$
कोई मेरी हंसी को नज़र न लगादे....!
बरी मुस्किल से सिखा हैं गम छुपा कर मुस्कुराना ...........$$$$

******************************

तोरने के लिए वादा किया नहीं जाता !
सोच समझ कर प्यार किया नहीं जाता...........$$$$
यकीन करो प्यार हो या दोस्ती....!
अगर दिल से की हो तो उसके बिना एक पल जिया नहीं जाता ...........$$$$

******************************

(१) छोटी - छोटी बातों पे टकरार न किया करो !
हमारे हर मजाक को दिल पर मत लिया करो ...........$$$$
क्या पता साथ हैं और कितने दिन....!
इन पलों को तो प्यार से जी लिया करो...........$$$$

******************************

(२) गुस्ताखी यही हैं हमारी की !
हर किसी से रिश्ता जोर जाते हैं ...........$$$$
लोग कहते हैं मेरा दिल पत्थर का हैं !
लेकिन कुछ सख्स ऐसे भी हैं..
जो इसे भी तोर जाते हैं...........$$$$

******************************

(३) तरस गए हम थोरी सी वफा के लिए !
किसी से प्यार नहीं करेंगे खुदा के लिए...........$$$$
जब भी लगती हैं इश्क की अदालत...!
क्यों हम ही चुने जाते हैं सजा के लिए...........$$$$

******************************

(४) ख्वाब समझ कर उसने हमें भुला दिया !
मेरी चाहत का उसने क्या खूब सिला दिया...........$$$$
उसकी महफिल में थी तन्हाई का आलम...!
अंधेरा दूर करने के लिए उन्होंने हमें ही जला दिया...........$$$$

******************************

एय मौत कितनी वफ़ा हैं तुझमे !
आज मैं आजमाना चाहता हूँ...........$$$$
जिंदगी ने बहुत रुलाया हैं हमें !
अब अगर तेरा साथ मिले तो..
जिंदगी को रुलाना चाहता हूँ...........$$$$

******************************

(१) ख़ुशी के आँसू रुकने न देना !
गम के आँसू बहने न देना...........$$$$
ये जिंदगी न जाने कब रुक जायेगी !
अपनी प्यारी सी दोस्ती कभी टूटने न देना ...........$$$$

******************************

(२) कभी - कभी तो यूँही रो परती हैं आँखे !
उदास होने का कोई सबब नहीं होता............$$$$
मैं अपने दिल को ये बात कैसे समझाऊ !
किसी को चाहने से वो अपना नहीं होता...........$$$$

******************************

दिल की यादों से सवारू तुझे !
तू दिखे तो आँखों में उतारू तुझे...........$$$$
तेरे नाम को मैंने अपने लबो पे सजाया हैं !
सो भी जाऊ तो ख्वाबो में पुकारू तुझे...........$$$$

******************************

(४) हर ख़ुशी गम का एलान हैं !
हर मुलाकात जुदाई का पैगाम हैं ...........$$$$
न रखना किसी से कोई उम्मीदें !
हर उम्मीद दिल टूटने का फरमान हैं...........$$$$

******************************

(५) मेरी कलम से लफ्ज खो गए !
आज वो बेवफ़ा हो गए...............$$$$
जब नींद खुली तो पलकों में पानी था !
मेरे ख्वाब मुझ पे ही रो गए.............$$$$

******************************

आपके ख़यालों से फुरसत नहीं मिली !
एक पल के लिए भी राहत नहीं मिली...........$$$$
मिल तो जाता हैं सबकुछ इस दुनियाँ में !
बस आपके चेहरे की एक झलक नहीं मिली...........$$$$

******************************

1) रहे सलामत दुनियाँ उनकी !
जो मेरी ख़ुशी की फरियाद करते हैं ...........$$$$
खुदा उन्हें खुशियाँ भरी जिंदगी देना !
जो हमें याद करने में एक पल बर्बाद करते हैं...........$$$$

******************************

(३) किसी को प्यार इतना करना की हद न रहे !
मगर ऐतबार भी इतना करना की शक न रहे ...........$$$$
वफ़ा इतना करना की बेवफाई न रहे....!
और दुवा बस इतना करना की जुदाई न रहे ...........$$$$

******************************

(४) जाने से पहले याद दे जायेंगे !
खुद सोने से पहले ख्वाब दे जायेंगे ...........$$$$
आपको गिला हैं हम आपसे बात नहीं करते !
साँस रुक जाने से पहले हर जबाब दे जायेंगे ...........$$$$

******************************

अगर मुझसे मोहब्बत नहीं तो रोते क्यों हो !
तन्हाई में मेरे बारे में सोचते क्यों हो..............$$$$
अगर मंजिल जुदाई हैं तो जाने दो मुझे !
लौट के कब आओगे ये पूछते क्यों हो...........$$$$

******************************

(१) जब कुछ सपने अधूरे रह जाते हैं !
तब दिल के दर्द आंसू बन के बह जाते हैं ...........$$$$
जो कहते हैं की हम सिर्फ आपके हैं....!
पता नहीं वो कैसे अलविदा कह जाते हैं ...........$$$$

******************************

(२) जिंदगी फैली हैं चारो और !
पर क्यों मुझे नज़र नहीं आती ...........$$$$
लोग कहते हैं हम तेरे दोस्त हैं !
पर क्यों दोस्ती नज़र नहीं आती ...........$$$$

******************************

(३) मेरे दिल में एक धड़कन तेरी हैं !
उस धड़कन की कसम तू नन्ही जान मेरी हैं...........$$$$
मेरी साँसों में एक साँस तेरी हैं....!
वो साँस रुक जाए तो मौत मेरी हैं ...........$$$$

******************************

(४) बेवक्त दस्तक देते हैं हम !
शिकायत करने का पूरा हक़ देते हैं हम...........$$$$
नफरत भी उनकी ख़ुशी से कबूल करते हैं हम !
जिन्हें दिल से अपना दोस्त कहते हैं हम...........$$$$

******************************

जब आपका नाम जुबान पर आता हैं !
पता नहीं दिल क्यों बेकरार हो जाता हैं...........$$$$
तसल्ली हैं दिल को आप सिर्फ मेरे हो !
फिर बेकरार दिल को करार आ जाता हैं...........$$$$

******************************

(१) कोई अच्छा लगे तो उस से दोस्ती मत करना !
उस के लिए निंद बेकार मत करना..............$$$$
दो दिन आयेंगे ख़ुशी से मिलने !
तीसरे दिन कहेंगें मेरा इंतजार मत करना...........$$$$

******************************

(२) झूठा अपनापन तो हर कोई जताता हैं !
वो अपना ही क्यों जो हर पल सताता हैं ...........$$$$
यकिन न करना हर किसी के बातों पर !
क्योकि करीब हैं कितना कोई ये वक्त ही बताता हैं ...........$$$$

******************************

खुदा न करे कभी आपको खुशियों की कमी हो !
कदम के निचे सदा फूलो की जमी हो..............$$$$
आँसू न हो आपकी आँखों में कभी !
अगर हो तो भी खुशियों की नमी हो ...........$$$$

******************************

(१) काश कोई हम पर भी प्यार जताते !
हमारी आँखों को अपने हाथों से छुपाते...........$$$$
हम जब पूछते कौन हो तुम.....!
मुस्कुरा कर वो अपने आप को हमारी जान बताते ...........$$$$

******************************

(२) दिल ने हमें दीवाना बना दिया !
रोए न थे कभी आप ने रुला दिया...........$$$$
हमने तो हर वक्त याद किया हैं आपको !
लेकिन आपने याद करने में ज़माना लगा दिया...........$$$$

******************************

(३) आशिको का नाम हर गम पे लिखा हैं !
फूलों का नाम सबनम पे लिखा हैं...........$$$$
तुझे खुद से जुदा कैसे समझू....!
तेरा नाम तो दिल की हर धड़कन पे लिखा हैं...........$$$$

******************************

(४) शराबी इलज़ाम शराब को देता हैं !
आशिक इलज़ाम शबाब को देता हैं ...........$$$$
कोई नहीं करता कबूल अपनी भूल...!
कांटा भी इलज़ाम गुलाब को देता हैं ...........$$$$

******************************

(५) कौन कब चाह कर दूर होता हैं !
हर कोई हालात से मजबूर होता हैं...........$$$$
हम तो बस इतना जानते हैं....!
हर रिश्ता मोती और कोहिनूर होता हैं...........$$$$

******************************

वो मेरे लिए कुछ खाश हैं यारों !
जिसके लौट आने की आस हैं यारों...........$$$$
वो नज़रों से दूर हैं तो क्या हुवा !...........$$$$

******************************

करे दरिया न पुल मिस्मार मेरे 
अभी कुछ लोग हैं उस पार मेरे ...........$$$$

बहुत दिन गुज़रे अब देख आऊँ घर को 
कहेंगे क्या दर-ओ-दीवार मेरे...........$$$$

******************************